Updated -

mobile_app
liveTv

अपने कम्प्यूटर में इस तरह खोजें पुरानी फाइलें

मल्टीमीडिया डेस्क। अगर आपको अपने पीसी/ लैपटॉप में कोई पुरानी फाइल नहीं मिल रही, तो कुछ ऐसे आसान तरीके हैं, जिनकी मदद से आप गुम हो चुकी फाइल्स को दोबारा पा सकते हैं।

एक्सटेंशन बड़े काम का

अगर आपको फाइल नेम याद नहीं आ रहा है, तो उसके एक्सटेंशन की मदद से उसे खोज सकते हैं। उदाहरण के लिए अगर आपने फाइल को एमएस वर्ड डॉक्यूमेंट में सेव किया होगा, तो उसका एक्सटेंशन 'डॉट डॉक' या 'डॉट डॉकएक्स' होगा। वहीं, एक्सेल फाइल का एक्सटेंशन 'डॉट एक्सएलएस' होगा। वीडियो और ऑडियो फाइल का एक्सटेंशन 'डॉट एमपी4' और 'डॉट एमपी3' हो सकता है। 

आधा नाम आ सकता है काम

अगर आपको किसी फाइल का पूरा नाम याद नहीं है, तो इसका पहला लेटर भी आपके काम आ सकता है। आपको विंडोज के आइकन पर क्लिक करना होगा व स्टार्ट के सर्चबार में उस फाइल का पहला लेटर टाइप करना होगा। इस पर सिस्टम आपको उस लेटर से शुरू होने वाली सभी फाइल्स की जानकारी देगा। 

कोर्टाना की मदद लें

अगर इन तरीकों के बाद भी आपको अपनी गुम हुई फाइल नहीं मिल रही है, तो आप कोर्टाना की मदद ले सकते हैं (विंडोज 10, विंडोज फोन 8.1 आदि में)। डॉक्यूमेंट्‌स को सर्च करते वक्त अगर आप टास्क बार में कोर्टाना आइकन पर क्लिक करते हैं, तो आपको हाल ही में की गई सारी एक्टिविटीज 'पिकअप वेयर यू लेफ्ट ऑफ' सेक्शन में दिखाई देती हैं।

ओडिशा लोक सेवा आयोग में निकली रिक्त पदों पर भर्तियां

 

ओडिशा लोक सेवा आयोग (ओपीएससी) ने जिओलोजिस्ट, माइनिंग ऑफिसर सहित अन्य रिक्त पडे 35 पदों पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए जा रहे हैं। इस पद के लिए इच्छुक व योग्य उम्मीदवार 27 अक्टूबर 2018 तक आवेदन कर सकते हैं।

पद का नाम व पदों की संख्या।
1. जिओलोजिस्ट : 30 कुल पद।
2. जिओफिजिसिस्ट : 01 कुल पद।
3. माइनिंग ऑफिसर : 04 कुल पद।

शैक्षणिक योग्यता : जिओलोजिस्ट पद के लिए उम्मीदवार को भारत में किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से जिओलोजी या एप्लाइड जियोलॉजी में कम से कम सेकंड क्लास के साथ एमएससी या एप्लाइड जिओलोजी में डिप्लोमा या इंडियन स्कूल ऑफ माइन्स धनबाद से एप्लाइड जिओलोजी में डिप्लोमा डिग्री, या सर्टिफिकेट कोर्स या इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलोजी या अन्य यूनिवर्सिटी से डिग्री, डिप्लोमा या सर्टिफिकेट या समकक्ष योग्यता। अन्य पदों से सम्बंधित विस्तृत शैक्षणिक योग्यता की जानकारी के लिए अधिसूचना को देखें।

आयु सीमा : अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 से और अधिकतम 32 वर्ष होना आवश्यक है।

आवेदन कैसे करें : उम्मीदवार पदों की जानकारी, आयु सीमा, योग्यता, नियमों और अन्य शर्तों के लिए नीचे दिए गए लिंकके माध्यम से पूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

सामान्य पदों पर भी आवेदन कर सकेंगे ओबीसी उम्मीदवार

नई दिल्ली : केंद्रीय विश्वविद्यालयों में कार्य कर रहे या आवेदन करने वाले ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों को जल्द ही बड़ा लाभ मिलने वाला है। ओबीसी उम्मीदवार अब सामान्य पदों पर भी आवेदन कर सकेंगे। कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) के उपसचिव ने केंद्र सरकार के सभी विभागों व मंत्रालयों को पत्र भेजकर यह निर्देशित कर दिया है। 

बता दें कि आरके सब्बरवाल बनाम पंजाब राज्य के बीच सुप्रीम कोर्ट में चल रहे केस में आरक्षित उम्मीदवारों को अनारक्षित पदों की भर्ती व प्रतियोगिताओं में सक्षम माने जाएंगे इसका निर्णय दिया जा चुका है, इसके बाद ही यह निर्णय लिया गया है। लेकिन प्रतियोगिता में प्राप्त अंकों को आरक्षित सदस्यों के द्वारा प्राप्त अंकों की श्रेणी में शामिल नहीं किया जाएगा।

ऑल इंडिया यूनिवर्सिटीज एंड कॉलेजिज एससी, एसटी, ओबीसी टीचर्स एसो. के नेशनल चेयरमैन और डीयू की एकेडेमिक काउंसिल के सदस्य प्रो. हंसराज सुमन ने कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी सर्कुलर पर कहा है कि इससे ओबीसी कोटे के उम्मीदवारों को सीधी भर्ती और प्रतियोगिताओं में दोहरा लाभ मिलेगा, अब उन्हें अपनी योग्यता को दर्शाने का मौका दिया जाएगा। वह आरक्षित व अनारक्षित दोनों ही पदों पर अपनी योग्यता दर्शा सकते हैं लेकिन वह तभी संभव है जब सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों के बराबर अंकों का स्तर हो। प्रो. सुमन ने बताया है कि केंद्र सरकार के उपसचिव राजू सारस्वत ने सभी मंत्रालयों और विभागों को भेजे गए पत्र में अनुरोध किया है कि इन निदेर्शों को सभी आवश्यक संस्थाओं को प्रेषित करके अधिसूचित किया जाए ताकि वो सही से लागू हो।

वेटरनरी और आयुष प्रोग्राम में भी मेरिट लिस्ट से मिलेगा एडमिशन

नई दिल्ली : जेईई मेन्स का रिजल्ट जारी होने के बाद स्टूडेंट्स अब जेईई एडवांस की तैयारी में जुट गए है। देश की 23 आईआईटी में एडमिशन पाने के लिए स्टूडेंट्स को जेईई एडवांस की परीक्षा भी पास करनी होगी। जेईई मेन परीक्षा में टॉप रैंक लाने वाले लगभग 2 लाख 24 हजार छात्र जेईई एडवांस परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन  करा सकेंगे।

कल से शुरु होगी रजिस्ट्रेशन प्रकिया
जेईई एडवांस के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रकिया 2 मई से 7 मई तक चलेगी। 8 मई को पंजीकरण की फीस का भुगतान करने की अंतिम तिथि है। छात्रों को जेईई एडवांस परीक्षा के ऑनलाइन पोर्टल www.jeeadv.ac.in पर पंजीकरण करना होगा। 

20 मई को परीक्षा होगी
जेईई एडवांस की परीक्षा 20 मई को होगी।जेईई एडवांस्ड पेपर अभी तक ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरह से होता था, लेकिन इस बार सभी सेंटरों पर एग्जाम ऑनलाइन होंगे। एग्जाम दो पार्ट में होंगे। पहला पेपर 3 घंटे और दूसरा 4 घंटे का होगा। परीक्षा रविवार को देशभर में आयोजित की जाएगी। पहला पेपर सुबह 9 बजे से लेकर 12 बजे तक होगा और दूसरा पेपर दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक होगा यह परीक्षा कंप्यूटर आधारित परीक्षण (सीबीटी) प्रणाली के तहत होगी। इस बार जेईई एडवांस परीक्षा का आयोजन आईआईटी कानपुर करा रहा है। 

इन छात्रों को मौका मिलेगा
जेईई मेन परीक्षा 2018 में निर्णायक अंक प्राप्त कर टॉप 2 लाख 24 हजार छात्रों में शामिल होने वाले अभ्यर्थी जेईई एडवांस 2018 परीक्षा में बैठ सकते हैं।
अभ्यर्थी का जन्म 1 अक्तूबर 1993 या उसके बाद हुआ हो। अनुसूचित जाति, जनजाति और दिव्यांग अभ्यर्थियों को पांच वर्ष की छूट दी जाएगी।
अभ्यर्थी-  वर्ष 2016 या उससे पहले आयोजित जेईई एडवांस परीक्षा में शामिल न हुआ हो।
अभ्यर्थी 2017 या 2018 में पहली बार कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षा में शामिल हुआ हो

10 जून को परिणाम
जेईई एडवांस परीक्षा देने वाले छात्रों को 25 मई को उत्तर की कॉपी मिल जाएगी। इसके बाद 29 मई को परीक्षा की सही उत्तर कुंजी जेईई एडवांस की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी की जाएगी। इसके बाद छात्र अपने संभावित प्राप्तांकों का अनुमान लगा पाएंगे। 10 जून 2018 को छात्रों का आधिकारिक परिणाम परिणाम रैंक के साथ जारी होगा। 

यहां निकली है नौकरियां, 54 साल वालें भी कर सकते हैं आवेदन

नई दिल्ली: राइट्स लिमिटेड ने उप प्रबंधक समेत कई पदों पर भर्ती के लिए आवेदन मांगे हैं।  योग्य उम्मीदवार इन पदों के लिए 3 मई से पहले ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इस वेबसाइट: www.rites.com पर आवेदन कर सकते हैं। कुल 56 पद के लिए आवेदन मांगे हैं। 

पदों का विवरण: उप प्रबंधक, प्रबंधक, अभियंता इत्यादि।

शैक्षणिक योग्यता: पदानुसार

आयु सीमा : अधिकतम 40 / 50 / 54 वर्ष (पदानुसार)
 
अंतिम तिथि: 3 मई, 2018

आवेदन प्रक्रिया : आवेदन करने के लिए उम्मीदवार संबंधित वेबसाइट पर जाएं और वहां मौजूद दिशा-निर्देशों के अनुसार ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी करें। आवेदन पूर्ण हो जाने के बाद उसका प्रिंटआउट आगामी चयन प्रक्रिया के लिए सुरक्षित रख लें।

मिलेगी 1,40000 सैलरी, यहां होनी है भर्तियां

नई दिल्ली : मुंबई रेलवे विकास कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने प्रोजेक्ट इंजीनियर के 34 पदों पर भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी कर आवेदन मांगे गए है। उम्मीदवार अपनी योग्यता और इच्छा से इनके लिए अप्लाई कर सकते है।
शैक्षिक योग्यता 
इंजीनियरिंग डिग्री (सिविल / इलेक्ट्रिकल / इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्युनिकेशन) + GATE - 2018 का स्कोर कार्ड 
पद विवरण
प्रोजेक्ट इंजीनियर - सिविल 
प्रोजेक्ट इंजीनियर - इलेक्ट्रिकल 
प्रोजेक्ट इंजीनियर - एसएंडटी
आवेदन करने के लिए अंतिम तिथि 
10 मई 2018
आयु सीमा 
उम्मीदवार की आयु  30 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए
चयन प्रकिया
उम्मीदवार का चयन शॉर्टलिस्टिंग और डिस्कशन में प्रदर्शन के अनुसार किया जाएगा। 
सैलरी 
 40,000-1,40,000 /- रुपये रहेगा 

बिजनेस शुरू करने से पहले याद रखें ये बातें, नहीं होगी भविष्य में कोई परेशानी

नई दिल्ली :  देश में बढ़ती हुई बेरोजगारी को देखते हुए आज कल के ज्यादातर युवा अपनी बिजनेस करने की चाहत रखते है ,ताकि वह पैसा कमाने के साथ - साथ दूसरों को भी रोजगार दे सकें। एेसे में अगर आप भी अपना व्यवसाय  शुरु करना चाहते है तो आइए जानते है कुछ एेसे टिप्स के बारे में जो किसी भी बिजनेस को शुरु करने से पहले आपको ध्यान में रखने जरुरी है। 

बढ़िया बिजनेस आइडिया
किसी भी स्टार्टअप को शुरू करने के लिए एक अच्छे आइडिया की जरूरत होती है। इसलिए किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले बिजनेस का आइडिया जरूर सोच लें। आप जो भी आइडिया सोच रहे है उस पहले से अच्छी तरह सोच विचार कर लें ताकि बाद भी आपको किसी तरह की कोई परेशानी ना हो। 

बिजनेस प्लान बनाएं
बिना प्लानिंग के बिजनेस करने से बचें। ये आपको भविष्य में मुसीबत में डाल सकता है।जब आप अपना स्टार्टअप का आइडिया फाइनल कर लें तो एक डायरी में बिजनेस से संबंधित सभी बातें लिख लें। इससे अगर आप अपने प्लान में अगर कोई बदलाव करना चाहते है उसमें भी आपको मदद मिलेगी। 

मार्किट पर रिसर्च कर लें 
कोई भी स्टार्टअप शुरू करने से पहले आपको मार्किट का हाल जानना सबसे ज्यादा जरूरी है। इसलिए जब भी आप स्टार्टअप की सोचें, तो मार्किट रिसर्च जरूर करें। बिना मार्केट का हाल जाने आप कोई भी बिजनेस शुरु करना अापकोे जोखिम में डाल सकते है। 

स्टार्टअप का नाम
लोगों के सामने नाम के चयन को लेकर बहुत समस्या आती है। यदि आप अपने बिजनेस के नाम को भविष्य में एक बड़ा ब्रांड बनाना चाहते हैं, तो नाम छोटा और सरल होना ही सोचें।

मॉडल तैयार करें
अपने स्टार्टअप बिजनेस का एक मॉडल तैयार करें। जिसमें तय करें कि आपका बिजनेस काम कैसे करेगा।क्या-क्या सर्विस आपको लोगों को देनी है। लोगों को आपके बिजनेस से कितना फायदा मिलेगा।

सह-संस्थापक खोजें
छोटा हो या बड़ा कोई भी बिजनेस आप अकेले शुरू नहीं कर सकते। इसलिए स्टार्टअप से पहले सह-संस्थापक खोजें।ताकि आपको बिजनेस में मदद मिलती रहे। इससेे आपको काम करने में भी आसानी होगी। 
 

बिजनेस शुरू करने से पहले याद रखें ये बातें, नहीं होगी भविष्य में कोई परेशानी

नई दिल्ली :  देश में बढ़ती हुई बेरोजगारी को देखते हुए आज कल के ज्यादातर युवा अपनी बिजनेस करने की चाहत रखते है ,ताकि वह पैसा कमाने के साथ - साथ दूसरों को भी रोजगार दे सकें। एेसे में अगर आप भी अपना व्यवसाय  शुरु करना चाहते है तो आइए जानते है कुछ एेसे टिप्स के बारे में जो किसी भी बिजनेस को शुरु करने से पहले आपको ध्यान में रखने जरुरी है। 

बढ़िया बिजनेस आइडिया
किसी भी स्टार्टअप को शुरू करने के लिए एक अच्छे आइडिया की जरूरत होती है। इसलिए किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले बिजनेस का आइडिया जरूर सोच लें। आप जो भी आइडिया सोच रहे है उस पहले से अच्छी तरह सोच विचार कर लें ताकि बाद भी आपको किसी तरह की कोई परेशानी ना हो। 

बिजनेस प्लान बनाएं
बिना प्लानिंग के बिजनेस करने से बचें। ये आपको भविष्य में मुसीबत में डाल सकता है।जब आप अपना स्टार्टअप का आइडिया फाइनल कर लें तो एक डायरी में बिजनेस से संबंधित सभी बातें लिख लें। इससे अगर आप अपने प्लान में अगर कोई बदलाव करना चाहते है उसमें भी आपको मदद मिलेगी। 

मार्किट पर रिसर्च कर लें 
कोई भी स्टार्टअप शुरू करने से पहले आपको मार्किट का हाल जानना सबसे ज्यादा जरूरी है। इसलिए जब भी आप स्टार्टअप की सोचें, तो मार्किट रिसर्च जरूर करें। बिना मार्केट का हाल जाने आप कोई भी बिजनेस शुरु करना अापकोे जोखिम में डाल सकते है। 

स्टार्टअप का नाम
लोगों के सामने नाम के चयन को लेकर बहुत समस्या आती है। यदि आप अपने बिजनेस के नाम को भविष्य में एक बड़ा ब्रांड बनाना चाहते हैं, तो नाम छोटा और सरल होना ही सोचें।

मॉडल तैयार करें
अपने स्टार्टअप बिजनेस का एक मॉडल तैयार करें। जिसमें तय करें कि आपका बिजनेस काम कैसे करेगा।क्या-क्या सर्विस आपको लोगों को देनी है। लोगों को आपके बिजनेस से कितना फायदा मिलेगा।

सह-संस्थापक खोजें
छोटा हो या बड़ा कोई भी बिजनेस आप अकेले शुरू नहीं कर सकते। इसलिए स्टार्टअप से पहले सह-संस्थापक खोजें।ताकि आपको बिजनेस में मदद मिलती रहे। इससेे आपको काम करने में भी आसानी होगी। 

बिजनेस को रजिस्टर कराएं
अपने बिजनेस को रजिस्टर कराना जरूरी है, क्योंकि एक अच्छा और सक्सेसफुल बिजनेमैन बनना है, तो आपको सारे लीगल काम करने होंगे इसके लिए आप किसी लीगल एडवाइजरसे विचार विमर्श कर सकते हैं। 

जरा ध्यान दीजिए, कॉमर्स से 12वीं पास करने के बाद नौकरी दिलाएंगे ये कोर्स

नई दिल्ली: 12वीं पास करने के बाद अक्सर स्टूडैंट इस बात को लेकर परेशान रहते हैं कि कौन सा कोर्स किया जाए। अपना करियर किस क्षेत्र में बनाया जाए। अगर आपने 12वीं की पढ़ाई में कॉमर्स की है तो आपको कुछ विकल्प बताने जा रहे हैं, जिनसे आप अच्छा पैसा भी कमा सकते हैं।

 

बैचलर ऑफ कॉमर्स (ऑनर्स): 12वीं के बाद आप ऑनर्स या किसी विशेष में बीकॉम करें। इसके लिए बीकॉम ऑनर्स अच्छा विकल्प हो सकता है और बीकॉम ऑनर्स तीन साल का डिग्री होती है। 

 

कॉस्ट एंड वर्क अकाउंटेंट (CWA): 12वीं के बाद भी स्टूडेंट्स CWA का कोर्स कर सकते हैं। इसके लिए 12वीं पास स्टूडेंट्स को पहले फाउंडेशन कोर्स करना होता है। 

 

चार्टर्ड अकाउंटेंट या कंपनी सेक्रेटरी: द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट ऑफ इंडिया (आईसीएआई) चार्टर्ड अकाउंटेंट का कोर्स कराता है। इसमें पहले सीपीटी, आईपीसीसी और फाइनल चरण से गुजरना होता है। लेकिन इन्हें पास करना थोड़ा मुश्किल होता है। वहीं आईसीएसआई देश में कंपनी सेक्रेटरी प्रोग्राम चलाता है।

 

बैचलर ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (बीएमएस): मैनेजमेंट के क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए यह कोर्स भी आपके लिए बेहतर हो सकता है। यह तीन साल का कोर्स है, जिसमें थ्योरी के साथ प्रेक्टिकल ट्रेनिंग भी दी जाती है, जिससे स्टूडेंट में मैनेजमेंट स्किल्स का भी विकास होता है।

लीक से हटकर करना चाहते है कुछ अलग तो कालिग्राफी में बनाएं करियर

नई दिल्ली : हर कोई चाहता है कि वह अच्छे तरह लिखें ताकि सब उसकी लिखावट देख कर उसकी तारीफ करें। इसलिए जब बच्चों को स्कूल में भेजा जाता है तो सबसे पहले उसे उसकी लिखावट साफ - सुथरी हो ,लेकिन अक्सर एेसा होता है कि जैसे - जैसे बच्चे बड़े होते जाते है उनका ध्यान अपनी हैंडराइटिंग से हटने लगता है। शायद आपको पता न हो लेकिन अगर आप सुंदर लिखने की क्षमता रखते हैं तो सिर्फ अपनी हैंडराइटिंग के दम पर ही एक बेहद उज्जवल भविष्य देख सकते हैं। विभिन्न स्टाइल व रचनात्मक तरीकों से शब्दों को लिखने के इस अनूठे करियर विकल्प को कालिग्राफी के नाम से जाना जाता है। यह एकदम अलग व स्टाइलिश कॅरियर विकल्प है। आइए जानते है कि कैसे आप इसमें करियर बना सकते है। 

क्या है कालिग्राफी 
कालिग्राफी एक ऐसा क्षेत्र है, जिसमें लेखन के विभिन्न टूल्स का प्रयोग करके शब्दों व संकेतों को अलग तरीके से निखारा जाता है। दूसरे शब्दों में, इसे कालिग्राफी विजुअल आर्ट कहा जा सकता है। तकनीकी के इस युग में लोग मानते हैं कि कंप्यूटर के अत्यधिक प्रयोग के कारण कालिग्राफी की कला को काफी नुकसान हुआ है। लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं है। कालिग्राफी सदियों से अस्तित्व में है तथा यह आज भी प्रासंगिक है। यह एक समृद्ध विरासत है तथा यह डिजिटल मीडिया द्वारा भी अडैप्टड किया जा रहा है। मॉडर्न कालिग्राफी में टाइपोग्राफी व नॉन−क्लासिकल हैंड लेटरिंग आदि का भी अभ्यास किया जाता है। इसलिए अब कालिग्राफर पेन बेस्ड व कंप्यूटर बेस्ड वेरियशन के जरिए फॉन्ट डिजाइन, डेस्कटॉप वॉलपेपर, मैन्युस्क्रिप्ट डिजाइन, होर्डिंग डिजाइन, साइनबोर्डस, पैकेजिंग डिजाइन, फाइन आर्टस आदि में भी कार्य करते हैं।

चाहिए ये स्किल्स
एक बेहतरीन कालिग्राफर बनने के लिए आपका कलात्मक व रचनात्मक दिमाग होना बेहद आवश्यक है। इसके अतिरिक्त आपको शब्दों, चित्रों व रूपांकनों से प्रेम भी होना चाहिए व उन्हें अपनी कलात्मकता व कल्पनाशीलता का प्रयोग कर हर दिन एक नया स्वरूप देने की इच्छा व क्षमता भी होनी चाहिए। एक कालिग्राफर में सौंदर्य बोध के अतिरिक्त कलात्मक संतुलन का अद्भुत मिश्रण होता है। इस क्षेत्र में अपने कौशल को सुधारने के लिए धैर्य व कठिन परिश्रम की आवश्यकता होती है। इसलिए आपके भीतर एकाग्रता व दृढ़ संकल्प भी होना चाहिए ताकि आप अपने क्षेत्र में निपुण हो सकें।

योग्यता
वैसे तो भारत में कालिग्राफी के लिए कोई अलग से कोर्स उपलब्ध नहीं है लेकिन फाइन आर्ट्स के स्टूडेंटस कुछ शॉर्ट टर्म कोर्सेस के जरिए कालिग्राफी के बेसिक्स जैसे स्क्रिप्ट, स्टाइल्स, फान्ट्स, टेक्निक  सीख सकते हैं।

संभावनाएं
आप ग्रीटिंग कार्डस, इनविटेशन, घोषणाओं, प्रमाण पत्र, बिजनेस कार्डस, मोनोग्राम्स, पोस्टर्स, मोटिवेशनल आर्ट प्रिंटस व मैगजीन व फिल्म के टाइटल्स में अपनी कला का बेहतरीन प्रदर्शन कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त आप पेंटिंग्स, मैप, लीगल डाक्यूमेंट, सिरेमिक, स्मारक दस्तावेज और अन्य हैंडमेड प्रस्तुतियों में भी काम कर सकते हैं। आप चाहें तो किसी टैटू आर्टिस्ट के साथ मिलकर बॉडी आर्ट डिजाइनिंग में भी अपना योगदान दे सकते हैं। आप किसी ग्रीटिंग कार्ड कंपनी, पब्लिशिंग हाउस, प्रिंटिंग शॉप्स व वेडिंग प्लानर्स के साथ जुड़कर जॉब कर सकते हैं या फिर बतौर फ्रीलांसर भी अपनी सेवाएं दे सकते हैं। इसके अतिरिक्त आप अपना खुद का बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं। 

सीआईएससीई तैयार करेगा नौवीं और 11वीं कक्षा के प्रश्न पत्र

नई दिल्ली : अगले अकादमिक सत्र से काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन्स( सीआईएससीई) कक्षा नौंवी और11 वीं की अंतिम परीक्षा के लिए दोनों कक्षाओं के उच्च मुख्य विषयों’’ के प्रश्नपत्र तैयार करेगा। अब तक इन दोनों कक्षाओं के वार्षिक परीक्षा प्रश्नपत्र संबंधित स्कूल तैयार करते थे। आईसीएसई स्कूलों के प्रमुखों के संघ के बंगाल चैप्टर के महासचिव नबारुण डे ने बताया कि आईसीएसई से संबद्ध राज्य के सभी स्कूलों को कल सीआईएससीई का सर्कुलर प्राप्त हो गया था। मुख्य विषयों के संबंध में डे ने कहा कि सर्कुलर में इसकी जानकारी नहीं दी गई है।

उन्होंने कहा कि सीआईएससीई संभवत: आने वाले दिनों में उच्च मुख्य विषयों’’ पर फैसला लेगी। डे ने बताया, उच्च इसका मकसद नौंवी और11 वीं कक्षा के पाठ्यक्रम के बड़े हिस्से को शामिल करना है ताकि छात्र बोर्ड परीक्षा से पहले बोझिल न महसूस करें।’सीआईएससीई के मुख्य कार्यकारी और सचिव गैरी अराथून ने बताया कि यह सर्कुलर परिषद् की आधिकारिक वेबसाइट पर भी मौजूद है।

करना चाहते है ऑनलाइन कमाई, ये है बढ़िया ऑप्शन

नई दिल्ली : आज के इस डिजीटल युग में शायद ही कोई ऐसा होगा जो स्मार्टफोन, लैपटॉप ,कंप्यूटर और इंटरनेट से ना जुड़ा हो। ऐसे में आज के ज्यादातर युवा इसी माध्यम से कमाई करने का जरिया भी तलाशने लगे हैं। अगर आप भी अपने पीसी या लैपटॉप के सामने बैठकर इंटरनेट के जरिए अच्छी कमाई करने का विकल्प तलाश रहे हैं तो ये मुमकिन है। क्योंकि आज के दौर में ऑनलाइन अर्निंग का क्रेज युवाओं में बढ़ता ही जा रहा है। आज हम आपको बताते हैं ऑनलाइन कमाने के विकल्प  वो बेस्ट ऑप्शन्स जिनके जरिए आप ऑनलाइन अच्छी कमाई कर सकते हैं

ऑनलाइन ट्यूशन
अगर आपकी किसी सब्जेक्ट पर अच्छी पकड़ है तो आप ऑनलाइन ट्यूशन पढ़ाकर अच्छी कमाई कर सकते हैं। आप अपने घर से ही इंटरनेट के माध्यम से दुनिया के किसी भी कोने में रह रहे छात्रों को ऑनलाइन ट्यूशन दे सकते हैं। वैसे ऑनलाइन ट्यूटर बनने के लिए आपका सब्जेक्ट पर अच्छा कमांड होना चाहिए। इसके लिए टीचिंग एप्टीट्यूड और कंप्यूटर नॉलेज होना भी जरूरी होता है क्योंकि स्टूडेंट आपका ट्रायल भी ले सकते हैं। 

ऑनलाइन रिसर्च वर्क
ऑनलाइन रिसर्च वर्क भी ऑनलाइन अर्निंग का एक अच्छा जरिए बनता जा रहा है। अगर आप किसी विषय के स्पेशलिस्ट हैं तो फिर इसे अपने ऑफिस तक ही सीमित ना रखें। बल्कि उस सब्जेक्ट में आप दूसरों को सलाह देकर भी कमाई कर सकते हैं। जैसे अगर किसी को विज्ञान से संबंधित कोई ई- बुक लिखनी है लेकिन उसके पास रिसर्च के लिए वक्त नहीं है तो ऐसे में वो रिसर्च का काम किसी ऑनलाइन रिसर्च कंपनी को सौंप देता है। आप इस तरह का काम किसी ऑनलाइन रिसर्च एजेंसी की मदद से शुरू कर सकते हैं।

ऑनलाइन राइटिंग जॉब्स
अगर आपको लिखने का काफी शौक है तो फिर आप दूसरों के ब्लॉग्स या साइट्स के लिए ऑनलाइन राइटिंग करके अच्छी कमाई कर सकते हैं। पेड राइटिंग एक तरह से फ्रीलांस जॉब है जिसमें आपको क्लाइंट की जरूरत के हिसाब से आर्टिकल लिखने होते हैं। यहां आप अपनी सहूलियत के हिसाब से काम कर सकते हैं लेकिन फ्रीलांस राइटर बनने के लिए भाषा पर अच्छी पकड़ होनी चाहिए और जो आप लिख रहे हैं उसमें क्वालिटी होना बेहद जरूरी है।