Updated -

mobile_app
liveTv


जयपुर टाइम्स
श्रीनगर (निसं.)। मंगलवार देर रात से कश्मीर घाटी में तेज बारिश हो रही है। इस वजह से अमरनाथ यात्रा फिलहाल रोक दी गई है। यात्रियों को उनके बेस कैंपों से आगे नहीं बढऩे दिया गया है। श्राइन बोर्ड का कहना है कि मौसम साफ होने के बाद ही इस बारे में आगे निर्णय किया जाएगा। इसी बीच बालटाल मार्ग पर मंगलवार शाम को भूस्खलन से पांच श्रद्धालुओं की मौत हो गई। इनमें चार पुरुष और एक महिला शामिल है। पुलिस ने बताया कि बालटाल मार्ग पर रेलपतरी और बरारीमर्ग के बीच जमीन खिसकने से यह हादसा हुआ। इसके साथ ही इस साल अमरनाथ यात्रा के दौरान मरने वालों की तादाद बढ़कर 11 हो गई। सोमवार से मंगलवार सुबह तक अलग-अलग वजहों से तीन व्यक्तियों की मौत हो गई थी। इससे पहले, बीएसएफ के एक अफसर, एक यात्रा स्वयंसेवी और एक पालकी ढोनेवाले की भी जान चली गई थी।
मलबे में दब गए 
थे सात यात्री
पुलिस के मुताबिक, शाम को रेलपतरी और बरारीमर्ग इलाके के बीच भूस्खलन हुआ। जत्थे में शामिल सात यात्री पहाड़ के मलबे में दब गए। मौके पर मौजूद टीमों ने तुरंत बचाव कार्य शुरू किया। मलबे से निकाले जाने तक तीन लोगों की मौत हो चुकी थी। पुलिस के मुताबिक, मारे गए लोगों और घायलों की पहचान अभी नहीं हो सकी है। इन्हें बालटाल बेस हॉस्पिटल लाया गया है। अमरनाथ यात्रा 28 जून से शुरू हुई है। यह 60 दिन चलेगी। अमरनाथ यात्रा के पांचवें दिन सोमवार को सबसे ज्यादा 22,500 यात्रियों ने दर्शन किए। अब तक कुल 36,366 श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं। 

Searching Keywords:

facebock Whats App

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.

Similar News