Updated -

mobile_app
liveTv

जयपुर टाइम्स
जयपुर (कासं.)। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि बच्चों को सही पोषण मिले इसके लिए उनके माता-पिता रात-दिन मेहनत करते हैं। लेकिन अब प्रदेश के सरकारी स्कूलों, मदरसों आदि में पढऩे वाले करीब 62 लाख बच्चों के अभिभावकों को यह चिंता करने की जरूरत नहीं है। हमारे नौनिहालों के लिए सरकार ने अन्नपूर्णा दूध योजना शुरू की है। जब ये बच्चे मिड-डे मील के साथ दूध पीकर स्वस्थ बनेंगे, तो हमारा आने वाला कल बेहतर होगा। राजे सोमवार को जयपुर के राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय, दहमी कलां में अन्नपूर्णा दूध योजना के राज्य स्तरीय शुभारम्भ समारोह को सम्बोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि यह योजना हमारे खुशहाल और स्वस्थ भविष्य की नींव है। 
स्कूलों में बढ़ेगा नामांकन
राजे ने कहा कि अब मिड-डे मील योजना के साथ अन्नपूर्णा दूध को जोडऩे से सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले बच्चों के पोषण स्तर में सुधार तो होगा ही, स्कूलों में नामांकन और ठहराव भी बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने ऐसे कई काम किए हैं, जिनसे राजस्थान शिक्षा के क्षेत्र में देश का अग्रणी राज्य बनकर उभरा है। बड़ी संख्या में शिक्षकों के रिक्त पदों को भरा गया है। प्रत्येक पंचायत में आदर्श विद्यालयों से शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार आया है। 

Searching Keywords:

facebock Whats App

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.